Newsअन्यताजा खबरें

कौन है जिला अस्पताल का दूसरा अधीक्षक

कौन है जिला अस्पताल का दूसरा अधीक्षक जिला अस्पताल में इन दिनों मुख्य चिकित्सा का कार्य दो अधीक्षक देख रहे हैं एक अधीक्षक वह है जो अस्पताल में नहीं बैठता मरीजों को भी नहीं देखता सिर्फ घालमेल में लगा रहता है दूसरा अधीक्षक अस्पताल में स्टैथोस्कोप लगाकर कुर्सी पर बैठता है मरीजों को डांटता है और मनमाने पैसे ना देने पर गालियां भी देता है महोबा जिला प्रशासन की नाक के नीचे प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना दम तोड़ रही है गरीब इलाज के लिए जिला अस्पताल जाते तो गालियां खाकर लौट आते हैं जिला अस्पताल की सीएमएस को भी पता नहीं कि उनके नाम पर गरीबों की जेब पर डाका कौन मार रहा है अभी कुछ समय पहले जिला अस्पताल में कीमती दबाव की चोरी का मामला w उजागर हुआ था इस पर भी जिला प्रशासन कुंभकरण की नींद में सो रहा है और सामने आ गया एक ऐसा मामला झोलाछाप डॉक्टर जिला अस्पताल में आग लगाकर मरीजों की जान पर भारी है और जेब पर भी पीड़ितों ने बताया कि इलाज के नाम पर वसूली कर रहे थे जब मैंने पूछा कि सरकारी अस्पताल में पैसे नहीं लगते तो जनाब उखड़ गए ऑर गंदे शब्दों का उपयोग करते हुए मुझे वहां से भगा दिया अब बड़ा सवाल यही है कि आखिर यही है कौन जो जिला अस्पताल में आकर वहां के डॉक्टरों और प्रशासन से मिलकर वहां आने वाले मरीजों को लूट रहा है सूत्रों की मानें तो जिला प्रशासन के गुप्ता जी भदोरिया जी जैसी कई बदबूदार मछलियां हैं जिनको जिला अस्पताल से कोई लेना देना नहीं है जो सरकार की छवि खराब कर रही हैं यदि इन पर तुरंत कार्रवाई नहीं हुई तो भाजपा की सुबह की सरकार की चूल्हे हिल जाए हिल सकती हैं क्योंकि इस पूरे जनपद में करप्शन वायरस बहुत तेजी से बढ़ रहा है ज्ञात हो कि स्वास्थ्य विभाग के अंतर्गत आने वाले अन्य सेवाएं प्रदान करने के लिए कार्यरत हैं परंतु देखते मरीजों को हैं और उनकी जेबों पर भारी है

Comment here