Uncategorized

गाँधी जी की 150 वीं जयन्ती के अवसर पर जिले भर में रही कार्यक्रमों की धूम

 

रिपोर्टर जतन सिंह

महोबा, 02 अक्टूबर 2019- राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के जन्म दिवस 02 अक्टूबर को 150वां गाँधी जयन्ती समारोह जिले में सम्मान पूर्वक मनाया गया। इस अवसर पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये गये।
गाँधी जयन्ती समारोह के अवसर पर प्रातः धार्मिक स्थलों पर सामूहिक प्रार्थना सभाओं का आयोजन किया गया, विद्यालयों में प्रभात फेरी निकाली गयी, अमर शहीदों एवं महापुरूषों की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण किया गया, स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों से सम्बन्धित शिलापटों की साफ-सफाई व माल्यार्पण किया गया, सरकारी भवनों व अन्य संस्थाओं पर ध्वजा रोहण कर गाँधी जी के चित्र का अनावरण, माल्यार्पण, प्रार्थना सभा, रामधुन तथा सर्वधर्म प्रार्थना एवं गाँधी जी के जीवन संघर्ष उनके देश सेवा, एकता और अखण्डता के विषय में उनके जीवन मूल्यों पर प्रकाश डाला गया। इस अवसर पर खेल प्रतियोगताओं का आयोजन, निः शुल्क स्वास्थ्य परीक्षण एवं दवा वितरण, मलिन बस्तियों में साफ-सफाई, अनाथ बच्चों,कुष्ट रोगियों एवं महिला बन्दियों को फल वितरण तथा देश भक्ति से सम्बन्धित आयोजन एवं पुरस्कार वितरण तथा गांधी जी के जीवन से सम्बंधित फ़िल्म का प्रदर्शनआदि कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।
इस अवसर पर जिलाधिकारी अवधेश कुमार तिवारी ने कलेक्ट्रेट में ध्वजा रोहण किया तत्पश्चात कलेक्ट्रेट सभागार में गाँधी जी तथा द्वितीय प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के चित्रों पर माल्यार्पण किया तथा उनके संकल्प को दोहराया। उनके जीवन मूल्यो पर प्रकाश डालते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि भारतीय स्वाधीनता आन्दोलन को नई उर्जा, गति और दिशा देने में राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी का अप्रतिम योगदान है। सत्याग्रह तथा सविनय अवज्ञा आन्दोलन के माध्यम से उन्होंने समाज के सभी वर्गों में आजादी की लौ को प्रज्जवलित किया। देश की राजनैतिक व सांस्कृतिक एकता एवं सामाजिक समरसता के माध्यम से महात्मा गाँधी ने राष्ट्र को एक सूत्र में पिरो कर सशक्त बनाने में अहम भूमिका का निर्वहन किया। राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी का जन्म 02 अक्टूबर उन सभी ज्ञात व अज्ञात स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों एवं क्रान्तिकारियों के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करने का अवसर है, जिन्होंने स्वतंत्रता संग्राम की बलवेदी पर अपना सब कुछ न्यौछावर कर दिया। यह दिन हम सब को राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के आदर्शों, सिद्धान्तों व उनके सदविचारों को अपनाने के साथ ही उनके पदचिन्हों पर चलने का अवसर प्रदान करता है।
इस अवसर पर डीएम ने सभागार में उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों को तम्बाकू और उसके उत्पादों का सेवन न करने की शपथ दिलाते हुए सभी जनपदवासियों से अपील की है कि स्वच्छता को अपनाएं, सिंगल यूज़ प्लास्टिक का प्रयोग न करें तथा तंबाकू का सेवन न करें तथा अपने घर परिवार के लोगों को इसका प्रयोग न करने के लिए रोकें। इसी मौके पर जिला उपभोक्ता फोरम के अध्यक्ष/न्यायधीश सूबेदार यादव ने गांधी जी तथा पूर्व प्रधानमंत्री शास्त्री जी के जीवन के अनछुए पहलुओं को विस्तृत रूप से बताया।ये भी कहा कि दोनों के ही जीवन को उत्कृष्ट बनाने में उनकी पत्नियों की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।
इसके अलावा इस मौके पर एडीएम पूनम निगम, प्रभारी कलेक्ट्रेट राकेश कुमार,डीएसओ एसपी शाक्य, डिप्टी आरएमओ रामकृष्ण पांडेय,खान अधिकारी रणवीर सिंह, पीओ डूडा वी के निगम, सूचना अधिकारी सतीश यादव,प्रशासनिक अधिकारी रामविलास श्रीवास,रामरतन वर्मा,अमर सिंह बुंदेला आदि ने गांधी जी के बारे में अपने अपने विचार व्यक्त किए।

Comment here